Please wait, loading...

Latest Updates


latest-post-marquee ग्राहक को जेब में पैसे के मुताबिक मिलेगी एलपीजी गैस, सरकार ने दिया विकल्‍प latest-post-marquee डिजिटल फार्मिंग से भरेगा दुनिया का पेट, बदल रही तकनीक, आधुनिक हो रहे किसान latest-post-marquee थाई बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन टिकेश्वरी ने कभी मनचलों को सिखाया था ऐसा सबक latest-post-marquee शोधार्थियों को फेलोशिप में बढोत्तरी को लेकर अब नहीं करना पड़ेगा आंदोलन latest-post-marquee एयरपोर्ट पर शक्ति कपूर से मिले क्रिकेटर युवराज सिंह, ये स्टार्स भी दिखे, देखें तस्वीरें latest-post-marquee फर्जी बिल के आधार पर न लें टैक्स छूट, भरना पड़ सकता है इतना जुर्माना latest-post-marquee SBI Small Account: कैसे खुलता है ये खाता, कितना मिलता है ब्याज, जानिए सब कुछ latest-post-marquee Ind vs NZ: हार्दिक पांड्या ने फिर किया ये कमाल, छुड़ा दिए न्यूज़ीलैंड के पसीने
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार फर्जी बिल के आधार पर न लें टैक्स छूट, भरना पड़ सकता है इतना जुर्माना

1 Hour ago

चालू वित्त वर्ष 2018-19 में टैक्स भरने का समय नजदीक आ गया है। कई लोग टैक्स से बचने के लिए फर्जी बिल लगा देते हैं। लेकिन अगर कभी आप पकड़े जाते हैं तो आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती है।

कई सारे ऐसे खर्चे हैं, जिसे दिखाकर कोई भी कर्मचारी अपने इंप्लॉयर से Reimbursement का दावा कर सकता है। जिनमें सबसे कॉमन मेडिकल बिल्स, और लीव ट्रेवल अलाउंस (LTA) बिल्स है। आपको बता दें कि ट्रेन और फ्लाइट से सफर करने पर इसका दावा किया जा सकता है।

आप जो घर का किराया देते हैं उसपर भी राहत मिलती है। लेकिन जब आप 1 लाख रुपये से अधिक का किराया भरते हैं तो मकान मालिक का पैन कार्ड आपको देना होगा।

एक बात ध्यान रखिये, अगर आपने अपनी आय छुपाई है या कम दिखाई है तो आईटी एक्ट के सेक्शन 270A(1) के तहत 50 फीसद तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है। हालांकि अगर आपने अपनी आय को कम दिखाने के अलावा गलत तरीके से दिखाया है तो जुर्माने की राशि बढ़कर 200 फीसद तक हो सकती है। अपने पेमेंट के लिए आप नेट बैंकिंग या क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करें। इससे खर्च का प्रमाण देना आसान हो जाएगा। 

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार SBI Small Account: कैसे खुलता है ये खाता, कितना मिलता है ब्याज, जानिए सब कुछ

1 Hour ago

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) स्माल अकाउंट खोलने का विकल्प देता है। स्माल अकाउंट कोई भी व्यक्ति खोल सकता है जिसकी उम्र 18 साल है से ज्यादा है। हम इस खबर में एसबीआई स्माल अकाउंट से जुड़ी कुछ जानकारी दे रहे हैं।

  • एसबीआई का स्माल अकाउंट को सिंगल, जॉइंट या कोई भी व्यक्ति जिसकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है खोल सकता है।
  • एसबीआई के सेविंग अकाउंट के उलट स्माल अकाउंट में औसत न्यूनतम शेष राशि (एएमबी) रखने की जरूरत नहीं है।
  • एसबीआई के स्माल अकाउंट की ब्याज दरें नियमित सेविंग अकाउंट खातों के समान हैं।
  • स्माल अकाउंट में अधिकतम शेष राशि 50,000 रुपये रखी जा सकती है।
  • इसमें ग्राहकों को बेसिक RuPay एटीएम-कम-डेबिट कार्ड भी मुफ्त मिलता है और SBI के स्माल अकाउंट के लिए कोई वार्षिक रखरखाव शुल्क नहीं देना होता है। एनईएफटी/आरटीजीएस जैसे इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट भी मुफ्त है।
  • खाताधारकों को एक महीने में अधिकतम चार निकासी की अनुमति है, जिसमें खुद के और अन्य बैंक के एटीएम से निकासी शामिल है। बैंक की वेबसाइट के अनुसार, खाता बंद करने के लिए भी कोई शुल्क नहीं लगता है।
  • यदि केवाईसी दस्तावेज़ 24 महीने के भीतर स्माल अकाउंट वाले बैंक को नहीं दिए जाते हैं, तो खाते को बंद करने के अलावा किसी भी लेनदेन की अनुमति नहीं है।
  • एसबीआई के स्माल अकाउंट को केवाईसी दस्तावेज जमा करने पर नियमित सेविंग अकाउंट में बदला जा सकता है।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार Union Budget 2019: मजदूरों और नौकरीपेशा लोगों के लिए सरकार ने खोला पिटारा

1 Hour ago

इस साल के बजट में वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने श्रमिकों के लिए बड़ा ऐलान किया है। सरकार ने श्रमिकों के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना का ऐलान किया है। इसमें मजदूरों को 7 हजार रुपये का बोनस देने का ऐलान किया है। वित्त मंत्री ने इस अंतरिम बजट में किसानों के साथ-साथ मजदूरों और श्रमिकों के लिए पिटारा खोल दिया है। इस बजट में जिन मजदूरों की आय 21 हजार रुपये हैं उन्हें 7 रुपये का बोनस देने का ऐलान किया है।


इसके अलावा नौकरीपेशा लोगों के लिए भी सरकार ने ग्रैच्युटी की सीमा 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख तक कर दी है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने रोजगार के मोर्चे पर सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए कहा कि पिछले 5 साल में रोजगार के मौके बढ़े हैं। अब रोजगार की तलाश करने वाले लोग ही रोजगार के अवसर पैदा कर रहे हैं। मुद्रा योजना में 15 लाख करोड़ रुपये के लोन दिए गए हैं।

जदूरों के लिए पेंशन स्कीम का ऐलान किया है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि न्यूनतम मजदूरी भी बढ़ाई गई है। जिन लोगों का EPF कटता है उनको 6 लाख रुपये तक की बीमा का लाभ मिलेगा। वित्त मंत्री ने 10 करोड़ मजदूरों के लिए पेंशन योजना का भी ऐलान किया है। कम से कम 3,000 रुपये का पेंशन दिया जाएगा। सरकार ने नौकरीपेशा लोगों के लिए इनकम टैक्स में राहत देते हुए इसकी सीमा 2.5 लाख से बढ़ाकर 5 लाख कर दिया है।

वित्त मंत्री ने मुद्रा योजना का जिक्र करते हुए कहा है कि इस योजना के तहत अब तक 15 लाख करोड़ रुपये के लोन दिए गए हैं। केवल सरकारी नौकरी अब नौकरी नहीं रह गई है। नौकरी खोजने वाले लोग अब नौकरी दे रहे हैं। MSME के लिए 59 मिनट में 1 करोड़ का लोन देने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री श्रमयोगी मान धन योजना के तहत 15 हजार रुपये से कम वेतन पाने वाले लोगों को भी पेंशन का लाभ दिया जाएगा। वित्त मंत्री ने बताया कि मुद्रा योजना के तहत 70 फीसद महिला लाभार्थी है। इसके अलावा सरकार 10 करोड़ मजदूर के लिए पेंशन योजना लाएगी। इस योजना के तहत कम से कम 3,000 रुपये का पेंशन दिया जाएगा।

आपको बता दें कि पिछले बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अद्योगों के लिए कई अहम ऐलान किए थे। वित्त मंत्री ने गरीबों के अलावा उद्योगों के लिए भी कई अहम ऐलान किए थे। टेक्सटाइल सेक्टर के लिए सरकार ने 6 हजार करोड़ का प्रावधान किया था। वहीं बजट में छोटे और मध्यम श्रेणी के उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए अलग से 3,994 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था। देश में छोटे उद्योग को पनपने और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने मुद्रा योजना के तहत तीन लाख करोड़ का प्रावधान भी किया था। ऐसे में युवा नौकरियां करने के बजाय अपना उद्योग शुरू करके दूसरों को नौकरी दे सके।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार सेंसेक्स 368 अंक टूटा-निफ्टी 10700 के नीचे फिसला, ZEEL रहा टॉप गेनर

1 Hour ago

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। दिन का कारोबार खत्म होने पर सेंसेक्स 368 अंकों की गिरावट के साथ 35,656 पर और निफ्टी 119 अंकों की गिरावट के साथ 10,661 पर बंद हुआ है। निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 14 हरे और 36 लाल निशान में कारोबार कर बंद हुए हैं। निफ्टी का मिडकैप 1.68 फीसद और स्मॉलकैप 1.84 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुआ है।

सेक्टोरियल इंडेक्स का हाल: आज के कारोबार में निफ्टी ऑटो 1.41 फीसद की गिरावट, निफ्टी फाइनेंस सर्विस 1.89 फीसद की गिरावट, निफ्टी एफएमसीजी 1.24 फीसद की गिरावट, निफ्टी आईटी 0.54 फीसद की तेजी, निफ्टी मेटल 1.06 फीसद की गिरावट, निफ्टी फार्मा 2.55 फीसद की गिरावट और निफ्टी रियालिटी 0.33 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुए हैं।

टॉप गेनर टॉप लूजर: आज के कारोबार में जील 15.73 फीसद की तेजी, इन्फ्राटेल 2.39 फीसद की तेजी, टीसीएस 2.04 फीसद की तेजी, कोल इंडिया 2.01 फीसद की तेजी और एलटी 1.29 फीसद की तेजी के साथ टॉप गेनर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ अदानीपोर्ट्स 12.53 फीसद की गिरावट, आईबीयूएलएचएसजीएफआईएन 6.51 फीसद की गिरावट, बजाजफिनांस 5.45 फीसद की गिरावट, यस बैंक 5.28 फीसद की गिरावट और बजाजफिनएसवी 4.30 फीसद की गिरावट के साथ टॉप लूजर रहे हैं।

दोपहर के 3 बजकर 10 मिनट पर सेंसेक्स 417 अंकों की गिरावट के साथ 35,607 पर और निफ्टी 117 अंकों की गिरावट के साथ 10,663 पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 13 हरे और 37 लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं। वहीं अगर इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी का मिडकैप 1.73 फीसद की गिरावट और स्मॉलकैप 1.74 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है।

दिन के 10 बजकर 6 मिनट पर सेंसेक्स 196 अंकों की कमजोरी के साथ 35,828 पर और निफ्टी 66 अंकों की कमजोरी के साथ 10,713 पर कारोबार कर रहा था। वहीं निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में 12 हरे और 38 लाल निशान पर कारोबार कर रहे थे। इंडेक्स की बात करें तो मिडकैप 1.35 फीसद की और स्मॉलकैप 1.44 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा था।

दिन के 9 बजकर 16 मिनट पर सेंसेक्स 55 अंकों कमजोरी के साथ 35,969 पर और निफ्टी 7 अंकों की तेजी के साथ 10,788 पर कारोबार कर रहा था। निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 17 हरे और 33 लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। वहीं इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी का मिडकैप 0.62 फीसद की गिरावट और स्मॉलकैप 0.35 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा था।

गौरतलब है कि शुक्रवार के कारोबार में प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 169.56 अंकों की गिरावट के साथ 36,025.54 पर और निफ्टी 69.25 अंकों की गिरावट के साथ 10,780.55 पर बंद हुआ था।

सेक्टोरियल इंडेक्स का हाल: दिन के करीब साढ़े नौ बजे निफ्टी ऑटो 0.45 फीसद की गिरावट, निफ्टी फाइनेंस सर्विस 0.26 फीसद की गिरावट, निफ्टी एफएमसीजी 0.34 फीसद की गिरावट, निफ्टी आईटी 0.27 फीसद की तेजी, निफ्टी मेटल 0.21 फीसद की गिरावट, निफ्टी फार्मा 0.98 फीसद की गिरावट और निफ्टी रियालिटी 0.74 फीसद की तेजी के साथ कारोबार कर रहा है।

वैश्विक बाजारों का हाल: हफ्ते के पहले कारोबारी सत्र में जापान को छोड़कर सभी प्रमुख एशियाई बाजारों ने अच्छी शुरुआत की है। दिन के 9 बजे जापान का निक्केई 0.31 फीसद की गिरावट के साथ 20708 पर, चीन का शांघाई 0.55 फीसद की तेजी के साथ 2616 पर, हैंगसेंग 0.21 फीसद की तेजी के साथ 27628 पर और ताइवान का कॉस्पी 0.11 फीसद की तेजी के साथ 2180 पर कारोबार कर रहा है। वहीं अगर अमेरिका के बाजार की बात करें तो बीते दिन डाओ जोंस 0.75 फीसद की तेजी के साथ 24737 पर, स्टैंडर्ड एंड पुअर्स 0.85 फीसद की तेजी के साथ 2664 पर और नैस्डैक 1.29 फीसद की तेजी के साथ 7164 पर कारोबार कर बंद हुआ था।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार वेडिंग सीजन में सोने की कीमतों में आया भारी उछाल, जानिए आज कितना महंगा हो गया 10 ग्राम गोल्ड

1 Hour ago

सोने की कीमतों में सोमवार को 350 रुपये का इजाफा देखने को मिला है। इस इजाफे के साथ आज सोने की कीमत 33,650 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर आ गई। ऑल इंडिया सराफा एसोसिएशन के मुताबिक कीमतों में इस तेजी की वजह वेडिंग सीजन में स्थानीय ज्वैलर्स की ओर से बढ़ी खरीदारी है।

सोने की ही तरह आज चांदी की कीमतों में भी भारी उछाल देखने को मिला है। आज के कारोबार में चांदी 850 रुपये के उछाल के साथ 40,900 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई है। चांदी की कीमतों में इस तेजी की वजह औद्योगिक इकाईयों और सिक्का निर्माताओं की ओर से तेज उठान मानी जा रही है।

बुलियन ट्रेडर्स के मुताबिक सोने की कीमतों में इस तेजी की वजह वेडिंग सीजन की मांग को पूरा करने के लिए स्थानीय ज्वैलर्स की ओर से बढ़ी खरीदारी है। ट्रेडर्स ने बताया कि इसके अलावा गोल्ड ने वैश्विक स्तर पर 1300 डॉलर प्रति औंस का स्तर प्राप्त कर लिया है। आपको बता दें कि शनिवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर बुलियन मार्केट बंद रहा था।

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना उछाल के साथ 1,301.82 डॉलर प्रति औंस और चांदी उछाल के साथ 15.77 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 99.9 फीसद और 99.5 फीसद शुद्धता वाला सोना 350 रुपये के उछाल के साथ क्रमश: 33,650 रुपये और 33,500 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ। हालांकि गिन्नी के भाव 200 रुपये के उछाल के साथ 25,700 रुपये प्रति 8 ग्राम के पीस पर पहुंच गए हैं।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार Golden Chance: SBI दे रही है लाखों की सैलरी वाली नौकरी, नहीं देनी होगी लिखित परीक्षा

1 Hour ago

नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने एक खुशखबरी दी है। एसबीआई की ओर से जारी की गई रिलीज के मुताबिक बैंक ने कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर कई पदों पर वैकेंसी निकाली हैं। जिस भी उम्मीदवार का इसमें चयन होगा उसे 12 से 15 लाख के आस-पास की सैलरी दी जाएगी।

नोटिफिकेशन के मुताबिक बैंक ने स्पेशल कैडर ऑफिसर के कई पदों के लिए वैकेंसी निकाली है। हालांकि इस नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 22 जनवरी से शुरू हो चुकी है, इस पद के लिए आवेदन करने हेतु 11 फरवरी 2019 आखिरी तारीख है। इसके अलावा बैंक की तरफ से सीनियर एग्जीक्यूटिव (क्रेडिट रिव्यू) के 15 पदों पर भी भर्तियां निकाली गई हैं।

कैटेगरी के आधार पर कितनी पोस्ट: अगर कैटेगरी के आधार पर बात करें तो इन पदों पर वैकेंसी कुछ इस तरह निर्धारित की गईं हैं

  • जनरल कैटेगरी के लिए: 9 पद
  • ओबीसी कैटेगरी के लिए: 3 पद
  • एसी कैटेगरी के लिए: 3 पद
  • एसटी कैटेगरी के लिए: एक पद

किस उम्र के लोग कर सकते हैं आवेदन?

इन पदों पर आवेदन के लिए आपकी न्यूनतम उम्र 25 वर्ष होनी चाहिए, जबकि इस पद हेतु अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष निर्धारित है।

आवेदन शुल्क: इन पदों पर आवेदन करने के लिए सामान्य वर्ग के आवेदकों को 600 रुपये, एससी और एसटी वर्ग के लिए आवेदकों को 100 रुपये की एप्लीकेशन फीस देनी होगी। ऑनलाइन पेमेंट क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या नेट बैंकिंग से किया जा सकता है।

चयन प्रक्रिया: इस पद के लिए आवेदकों की लिखित परीक्षा नहीं होगी। पहले आवेदकों को शार्टलिस्ट किया जाएगा और फिर उसके बाद इंटरव्यू के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी। हालांकि चयनित उम्मीदवारों को दो वर्ष का कॉन्ट्रैक्ट साइन करवाया जाएगा।

क्या होनी चाहिए योग्यता: सीनियर एग्जीक्यूटिव (क्रेडिट रिव्यू) पद पर आवेदन करने के लिए आवेदक को या तो सीए होना चाहिए या फिर उसका फाइनेंस में एमबीए होना जरूरी है। वहीं स्नातक होने के बाद आवेदक के पास दो वर्ष का अनुभव होना चाहिए।

कहां मिलेगी नौकरी: इस बात की संभावना तेज है कि चयनित उम्मीदवारों को मुंबई में नौकरी दी जा सकती है। हालांकि अभी इसकी कोई निश्चित जगह तय नहीं है।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार उम्मीद से खराब रहे मारुति के नतीजे, मुनाफे में आई कमी - 8 फीसद तक टूटा शेयर

1 Hour ago

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजूकी के नतीजे उम्मीद के मुताबिक नहीं रहे हैं। शुक्रवार को कंपनी की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में कंपनी के मुनाफे में 17.2 फीसद की कमी आई और यह कम होकर 1,489 करोड़ रुपये हो गया।

कंपनी को हुआ मुनाफा विश्लेषकों के अनुमान से कम है। रॉयटर्स के पोल में 1,744 करोड़ रुपये के मुनाफे का अनुमान लगाया गया था।

पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी को 1744 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

संबंधित तिमाही में कंपनी ने कुल 4,28,643 वाहनों की बिक्री की, जो पिछले साल की समान तिमाही के मुकाबले मामूली रूप से 0.6 फीसद कम है।

गौरतलब है कि कंपनी ने हाल ही में कुछ चुनिंदा मॉडलों की कीमतों में 10,000 रुपये तक की बढ़ोतरी की थी।

खराब नतीजों से टूटा शेयर: कंपनी के खराब नजीतों का असर इसके शेयरों पर भी दिखा। शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में कंपनी का शेयर 8 फीसद से अधिक की गिरावट के साथ 6,465 रुपये पर बंद हुआ।

जनवरी महीने में यह शेयर 13 फीसद से अधिक तक लुढ़क चुका है। पिछले एक साल के आधार पर देखा जाए तो इसमें 30 फीसद से अधिक की गिरावट आई है।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार Union Budget 2019: इस बार महिलाओं के लिए कितना खास होगा बजट!

1 Hour ago

लोकसभा चुनाव 2019 में अब महज़ कुछ ही महीने बाकी हैं। इससे पहले केंद्र सरकार अपना अंतरिम बजट 1 फरवरी को पेश करने वाली है। वित्त मंत्री अरुण जेटली एक फरवरी को इसे पेश करेंगे। यह एनडीए सरकार के पांच सालों के कार्यकाल का आखिरी बजट है, इसलिए लोगों को इसका खासतौर पर इंतजार है।

इससे पहले 1 फरवरी 2018 को अरुण जेटली ने पूर्ण बजट पेश किया था, जिसमें महिला सशक्तिकरण पर भी बल दिया गया था। उन्होंने ऐसी कई योजनाओं की घोषणा की, जो ना सिर्फ गृहिणी के लिए बल्कि कामकाजी महिलाओं के लिए भी सरकार की तरफ से तोहफा थीं।

बजट 2018 में महिलाओं को ये मिला-

फ्री एलपीजी गैस कनेक्शन :

उज्ज्वला योजना के तहत सरकार ने 5 करोड़ गरीब महिलाओं तक मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य रखा था। इस योजना के मद्देनजर बजट 2018 में गरीबी रेखा से नीचे आने वाली महिलाओं को 8 करोड़ मुफ्त एलपीजी कनेक्शन बांटने की घोषणा की गई थी।

EPFO में मिला बड़ा फायदा :

बजट 2018 में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की संचालित योजनाओं में महिला कर्मचारियों के लिए कॉन्ट्रिब्यूशन रेट को कम कर दिया गया। महिला कर्मचारियों के लिए पीएफ योजनाओं में कॉन्ट्रिब्यूशन रेट 8फीसदी कर दिया गया। इसमें जिन महिलाओं का वेतन कम है, वे कम ईपीएफ कटवाकर ज्यादा पैसा खर्च के लिए रख सकती हैं। पहले यह करीब 9 फीसदी था।

महिलाओं के लिए बढ़ाई गई लोन राशि :

महिला स्वयंसेवी संगठनों को ऑर्गेनिक खेती करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने उनके लिए मार्च2019 तक लोन की राशि बढ़ाकर 75000 करोड़ कर दी थी।

मैटरनिटी लीव की अवधि बढ़ाई गई :

बजट 2018 में कामकाजी गर्भवती महिलाओं (Working Pregnant Women) के लिए मातृत्व अवकाश (Maternity leave) की अवधि को बढ़ाकर 12 हफ्तों से 26 हफ्ते कर दिया गया था, जो उनके लिए एक बड़ा तोहफा था।

1.88 करोड़ शौचालयों का निर्माण :

2018 के बजट में महिलाओं की गरिमा को ध्यान में रखते हुए 2018-19 में 1.88 करोड़ शौचालय बनाने की घोषणा की गई। साल 2018-19 में ग्रामीण क्षेत्रों में 51 लाख आवास बनाने का लक्ष्या भी रखा गया।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार Kotak Mahindra Bank: कोटक महिंद्रा बैंक का लाभ 13 फीसद बढ़कर 1844 करोड़ रुपए हुआ

1 Hour ago

निजी क्षेत्र के कोटक महिंद्रा बैंक ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में समेकित शुद्ध लाभ 13.54 फीसद बढ़कर 1,844 करोड़ रुपये होने की घोषणा की है। बैंक द्वारा ज्यादा कर्ज दिए जाने और मार्जिन बढ़ने के कारण उसका मुनाफा बढ़ा है। बैंक का स्टैंडअलोन मुनाफा 23 फीसद बढ़कर 1,291 करोड़ रुपये हो गया।


बैंक के अनुसार उसकी मुख्य ब्याज आय 22.76 फीसद बढ़कर 2,939 करोड़ रुपये हो गया। उसके एडवांस में 23 फीसद की वृद्धि हुई। बैंक का मार्जिन भी बढ़कर 4.33 फीसद हो गया।

बैंक के ज्वाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर दीपक गुप्ता ने संवाददाताओं को बताया कि गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) द्वारा कर्ज वितरण लगभग बंद किए जाने के कारण हमें कारोबार बढ़ाने में मदद मिली। बैंक का मार्जिन भी इस वजह से सुधर गया। हालांकि बैंक की अन्य आय घटकर 963.88 करोड़ रुपये रह गई।

बैंक के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर जैमिन भाट ने कहा कि आय में गिरावट अकाउंटिंग प्रैक्टिस में बदलाव के कारण नजर आ रही है। इस दौरान बैंक की असेट क्वालिटी में सुधार आया है। ग्रॉस एनपीए यानी फंसे कर्ज 2.31 फीसद से घटकर 2.07 फीसद रह गए।

गुप्ता के अनुसार बैंक एसएमई क्षेत्र को कर्ज देने में खासी सावधानी बरत रहा है क्योंकि उसे अभी भी लगता है कि तमाम इकाइयां खासकर असंगठित क्षेत्र की इकाइयां नोटबंदी के असर से उबर नहीं पाई हैं। पिछले महीने आरबीआइ द्वारा एमएसएमई उद्योगों के एनपीए के संबंध में नियम उदार किए जाने से बैंक का एनपीए 125 करोड़ रुपये कम हो गया।

यूनियन बैंक ने लगातार दूसरी तिमाही में कमाया मुनाफा

सरकारी क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने दिसंबर तिमाही में 153.21 करोड़ रुपये शुद्ध लाभ होने की घोषणा की थी। पिछले साल इसी तिमाही में बैंक को 1249 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। लेकिन बैंक लगातार दूसरी तिमाही में मुनाफा कमाने में सफल रहा।

सितंबर तिमाही में उसने 139 करोड़ रुपये लाभ कमाया था। बैंक की ब्याज आय 2.2 फीसद घटकर 2493 करोड़ रुपये रह गई जबकि अन्य आय 25.4 फीसद बढ़कर 1095 करोड़ रुपये हो गई। बैंक के कर्ज 7.9 फीसद बढ़ गए। जबकि मार्जिन 2.23 फीसद रहा। बैंक के चीफ एक्जीक्यूटिव राजकिरण राय ने बताया कि आइएलएंडएफ में बैंक का कर्ज 1100 करोड़ रुपये है। इसमें से 1,000 करोड़ रुपये कर्ज एनपीए हो गया है।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार दिल्ली में 66 रुपए लीटर के करीब पहुंचा डीजल, आज इतने बढ़े तेल के दाम

1 Hour ago

नए साल में पेट्रोल और डीजल के दामों में जैसे फिर से आग लगी हुई है। शुरुआती दिनों की मामूली राहत के बाद लगातार बढ़ रही कीमतें एक महीने पुराने स्तर पर पहुंच गई हैं। मंगलवार को तेल के दामों में फिर बढ़ोतरी दर्ज की गई है। राजधानी में पेट्रोल जहां 13 पैसे महंगा हुआ है वहीं डीजल के दाम 19 पैसे बढ़े हैं। इसके बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 71.27 रुपए लीटर मिल रहा है जबकि डीजल 65.90 रुपए लीटर मिल रहा है।

मुंबई में तेल के दाम आज 76.90 रुपए लीटर हैं जबकि डीजल 69.01 रुपए लीटर मिल रहा है। इसी तरह चेन्नई की बात करें तो यहां पेट्रोल के दाम 73.99 रुपए लीटर हैं जबकि डीजल 69.62 रुपए लीटर मिल रहा है। कोलकाता की बात करें तो यहां पेट्रोल के दाम 73.36 रुपए लीटर हैं जबकि डीजल 67.68 रुपए लीटर मिल रहा है।

इससे पहले सोमवार को राजधानी में पेट्रोल जहां पेट्रोल 71.14 रुपए लीटर मिल रहा था वहीं डीजल 65.71 रुपए लीटर मिल रहा था।

बता दें नया साल लगते ही अब फिर से पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने लगे हैं। वैश्विक स्तर पर तेल की कीमतों में गिरावट के बावजूद, प्रमुख तेल कंपनियों ने अपना फायदा देखते हुए ईंधन की कीमतों में वृद्धि की है। ताजा कच्चे तेल की कीमतों में इजाफे का एक कारण कमजोर निवेश भी है।

वहीं, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में भी गिरावट दर्ज की गई है। यही वजह है कि नया साल लगते ही पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी शुरू हो गई है। ईंधन की कीमतों में इजाफा इसलिए हुआ है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रूड की कीमतों में तेजी नजर आ रही है।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार LIC बन गया बैंक, खरीदी आईडीबीआई की 51 फीसदी हिस्सेदारी

1 Hour ago

भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने सार्वजनिक क्षेत्र के आईडीबीआई बैंक में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी कर ली है। इसी के साथ वह आईडीबाईआई बैंक में बहुलांश शेयरधारक हो गया है। बैंक ने सोमवार को यह जानकारी दी।

आईडीबीआई बैंक ने बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में कहा, "यह सौदा आईडीबीआई बैंक और एलआईसी दोनों के लिए अच्छा है। इससे आपसी सहयोग के जरिये दोनों इकाइयों के शेयरधारकों, ग्राहकों और कर्मचारियों के लिए नए अवसर पैदा किए जा सकेंगे।"

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल अगस्त में एलआईसी को आईडीबीआई बैंक में नियंत्रक हिस्सेदारी खरीदने की मंजूरी दी थी। एलआईसी की आईडीबीआई बैंक में बहुलांश हिस्सेदारी खरीदकर बैंकिंग क्षेत्र में प्रवेश करने की योजना है। आईडीबीआई बैंक का कारोबार दबाव में रहने के बावजूद इस सौदे से दोनों इकाइयों को व्यावसायिक सहयोग मिलने की उम्मीद है।

आईडीबीआई बैंक को चालू वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही में 3,602.49 करोड़ रुपए का शुद्घ घाटा हुआ था। वहीं, बैंक का सकल एनपीए कुल कर्ज का 31.78 प्रतिशत (60,875.49 करोड़ रुपए) रहा, पिछले वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही में यह आंकड़ा 24.98 प्रतिशत था।

बैंक ने कहा, "आईडीबीआई बैंक और एलआईसी ने अगले 12 महीने में अपनी क्षमताओं का पूर्ण उपयोग करने के लिए काम करना शुरू कर दिया है। वित्तीय हालत में सुधार से आईडीबीआई बैंक को आरबीआई की त्वरित सुधार कार्रवाई (पीसीए) से बाहर निकलने में मदद मिलेगी।"

एमडी, सीईओ बने रहेंगे शर्मा

वहीं, दूसरी ओर आईडीबीआई बैंक ने शीर्ष प्रबंधन में फिलहाल को कोई बदलाव नहीं करने का फैसला किया है और मौजूदा प्रबंधन के साथ ही बने रहने का निश्चय किया है। राकेश शर्मा बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बने रहेंगे।

बैंक के निदेशक मंडल ने आईडीबीआई बैंक के बोर्ड में अतिरिक्त निदेशक और एलआईसी के नामित निदेशक के रूप में राजेश कंडवाल की नियुक्ति को मंजूरी दी है। कंडवाल एलआईसी एचएफएल केयर होम्स लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और निदेशक हैं।

बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि आईडीबीआई बैंक के निदेशक मंडल ने 21 जनवरी को हुई बैठक में राकेश शर्मा को प्रबंध निदेशक और सीईओ तथा के पी नायर और जी एम यदवाडकर को उप प्रबंध निदेशक के रूप में बरकरार रखने को मंजूरी दी।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 134 अंक गिरकर बंद

1 Hour ago

भारतीय शेयर बाजार में लगातार दूसरे दिन गिरावट नजर आई है। मंगलवार को कमजोरी के साथ खुला बाजार दिन के अंत में भी संभल नहीं पाया। सुबह 110 अंकों की कमजोरी के साथ खुला प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 134 अंक गिरकर 36444 के स्तर पर बंद हुआ वहीं निफ्टी 39 अंकों की कमजोरी के साथ 10922 के स्तर पर बंद हुआ है।

वहीं निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 17 हरे और 33 लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं। अगर इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी का मिडकैप 0.22 फीसद की गिरावट और स्मॉलकैप 0.19 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है

दिन के 9 बजकर 16 मिनट पर सेंसेक्स 71 अंकों की कमजोरी के साथ 36,507 पर और निफ्टी भी कमजोरी के साथ 10924 पर कारोबार कर रहा था। इस वक्त निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 16 हरे और 34 लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। वहीं इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी का मिडकैप 0.26 फीसद की गिरावट और स्मॉलकैप 0.24 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा था। गौरतलब है कि सोमवार के कारोबार में सेंसेक्स 192 अंकों की तेजी के साथ 36,578 पर और निफ्टी 54 अंकों की मजबूती के साथ 10,961 पर कारोबार कर बंद हुआ था।

वैश्विक बाजारों का हाल: आज सभी प्रमुख एशियाई बाजारों ने गिरावट के साथ शुरुआत की है। दिन के 9 बजे जापान का निक्केई 0.06 फीसद की गिरावट के साथ 20706 पर, चीन का शांघाई 0.63 फीसद की गिरावट के साथ 2594 पर, चीन का हैंगसेंग 0.59 फीसद की गिरावट के साथ 27037 पर और ताइवान का कॉस्पी 0.54 फीसद की गिरावट के साथ 2113 पर कारोबार कर रहा है। वहीं अगर अमेरिका के बाजार की बात करें तो बीते दिन डाओ जोंस 1.38 फीसद की तेजी के साथ 24706 पर, स्टैंडर्ड एंड पुअर्स 1.32 फीसद की तेजी के साथ 2670 पर और नैस्डैक 7157 पर सपाट कारोबार कर बंद हुआ था।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, PF पर मिलने वाला ब्याज बढ़ा सकती है सरकार

1 Hour ago

वेतनभोगी कर्मचारियों को अगले महीने खुशखबरी मिल सकती है। दरअसल, EPF (कर्मचारी भविष्‍य निधि) पर मिलने वाले ब्याज में बढ़ोतरी हो सकती है। इससे संगठित क्षेत्र में काम करने वाले करोड़ो कर्मचारियों को फायदा होगा। फिलहाल EPF पर मिलने वाला ब्याज 8.55 फीसद है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार EPFO की सालाना अंदरुनी समीक्षा में ब्याज वृद्धि के बारे में भी चर्चा की गई।

इस महीने एक अंग्रेजी अखबार ने यह खबर दी थी कि सरकार EPF की ब्‍याज दरों में बढ़ोतरी करेगी। महंगाई दर घटने की वजह से वेतनभोगी कर्मचारियों को EPF पर मिलने वाला वास्‍तविक ब्‍याज (रियल इंट्रेस्‍ट) बढ़ा है।

EPF का 2018 में रहा ज्यादा रिटर्न

2018 में PPF और NSC से ज्यादा EPF ने रिटर्न दिया है। जहां PPF और NSC ने 7.7 फीसद रिटर्न दिया तो वहीं, EPF में जमा रकम पर 8.55 फीसद ब्‍याज मिला।

ब्‍याज कटौती की संभावना कम

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक EPF की ब्‍याज दरों में कटौती की संभावना काफी कम है। इस बार सरकार की कोशिश रहेगी कि सब्‍सक्राइबर्स को मिलने वाला रिटर्न बढ़ाया जाए। बता दें कि इस साल का अंतरिम बजट 1 फरवरी को पेश किया जाएगा।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार सन फार्मा के खिलाफ SEBI को मिली नई शिकायत, 6 साल के निचले स्तर पर पहुंचा शेयर

1 Hour ago

सिक्योरिटी एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) को सन फार्मा के खिलाफ नए सिरे से भेजी गई शिकायत के बाद कंपनी के शेयर शुक्रवार को धाराशायी हो गए।  पिछले दो दिनों में कंपनी के शेयरों में 17 फीसद से अधिक की गिरावट आई है।

खबरों के मुताबिक 2014 से 2017 के बीच आदित्य मेडिसेल्स ने सुरक्षा रियल्टी के साथ 5,800 करोड़ रुपये का लेन-देन किया, जिसका नियंत्रण सन फार्मा के को-प्रोमोटर सुधीर वालिया के पास है। एक व्हिसलब्लोअर ने फिर से सेबी के पास 172 पृष्ठों वाली नई शिकायत भेजी है। कंपनी पहले से ही कॉरपोरेट गवर्नेंस से जुड़ी शिकायतों का सामना कर रही है। दिसंबर 2018 में सबसे पहले व्हिसलब्लोअर ने कंपनी प्रोमोटर दिलीप सांघवी और ब्रदर-इन-ला सुधीर वालिया के खालिफ धर्मेश जोशी के साथ मिलकर वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाया था। दोषी कथित रूप से 2001 में सामने आए केतन पारेख घोटाले के मुख्य आरोपियों में से एक हैं।

375.40 रुपये के निचले भाव पर कंपनी के बाजार पूंजीकरण में 12,416 करोड़ रुपये की कमी आई है। वहीं दो दिनों के भीतर कंपनी के बाजार पूंजीकरण में 18,702 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। सन फर्मा के शेयरों में आई गिरावट का असर सन फार्मा एडवांस्ड रिसर्च कंपनी पर भी दिखा। शुक्रवार के कारोबार में कंपनी का शेयर 52 हफ्तों के निचले स्तर पर चला गया।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार टेलीकॉम के बाद ई-कॉमर्स बिजनेस में उतरेंगे मुकेश अंबानी, एमेजॉन और वॉलमार्ट को मिलेगी टक्कर

1 Hour ago

एमेजॉन और वॉलमार्ट को टक्कर देने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज ऑनलाइन शॉपिंग के क्षेत्र में कदम रखेगी। ऑनलाइन बिजनेस का खाका सार्वजनिक करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि समूह की दो कंपनियां रिलायंस रिटेल और जियो इन्फोकॉम संयुक्त रूप से देश में नए ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म की शुरुआत करेंगी।

वाइब्रेंट गुजरात समिट के 9वें संस्करण को संबोधित करते हुए अंबानी ने कहा कि रिलायंस की इस पहल से सबसे पहले गुजरात जुड़ेगा। उन्होंने कहा कि इससे राज्य के करीब 12 लाख खुदरा व्यापारी और स्टोर ऑनर्स जुड़ेंगे।

गौरतलब है कि चालू वित्त वर्ष की दिसंबर तिमाही के नतीजों में कंपनी ने पहली बार कंज्यूमर बिजनेस विशेषकर टेलीकॉम और रिटेल ऑपरेशंस से होने वाली कमाई का जिक्र किया है। कंपनी ने बताया है कि उसकी कुल कमाई में इन क्षेत्रों से एक चौथाई की मदद मिली। वहीं पेट्रोकेमिकल्स से 42 फीसद जबकि रिफाइनिंग से 26 फीसद राजस्व कमाने में मदद मिली।

रिलायंस की 41वीं सालाना बैठक को संबोधित करते हुए अंबानी ने कहा था कि उनकी कंपनी की कोशिश 2025 तक राजस्व को दोगुना करने की है। उन्होंने कहा कि यह इसलिए संभव हो पाएगा क्योंकि रिटेल और टेलीकॉम बिजनेस का राजस्व हाइड्रोकार्बन बिजनेस की बराबरी में पहुंच जाएगा।

2017-18 में कंपनी ने कुल 430,731 करोड़ रुपये का राजस्व कमाया था, जिसमें कंपनी को शुद्ध रूप से 36,075 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में कंपनी को शुद्ध 10,251 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है।

2020 तक 6.6 लाख करोड़ रुपये की होगी ऑनलाइन इंडस्ट्री

भारत में ई-कॉमर्स सर्वाधिक तेजी से बढ़ने वाला बिजनेस है और इस सेक्टर में एमेजॉन और वॉलमार्ट सबसे बड़ी कंपनी है। 2010 से 2014 के बीच भारत का ई-कॉमर्स 209 फीसदी की ग्रोथ रेट से आगे बढ़ा है। 2010 में ई-कॉमर्स इंडस्ट्री करीब 20,020 करोड़ रुपये का था जो 2014 में बढ़कर 83,096 करोड़ रुपये का हो गया।

सीआईआई और डेलॉएट की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2020 तक भारत में ऑनलाइन रिटेल इंडस्ट्री के 6.6 लाख करोड़ रुपये के होने की उम्मीद है। वहीं केपीएमजी के अनुमान के मुताबिक यह 7.78 लाख करोड़ रुपये का हो सकता है।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार 31 मार्च 2019 तक हर हाल में निपटा लें ये तीन काम, नहीं तो आपको हो जाएगी मुश्किल

1 Hour ago

नए वर्ष की शुरुआत के साथ ही करदाता वित्तीय संतुलन बिठाने की उधेड़बुन में लग जाते हैं। नए वर्ष के पहले महीने जनवरी से लेकर मार्च तक का समय वित्त के लिहाज से काफी अहम माना जाता है, क्योंकि इस दौरान आपको टैक्स बचत से लेकर तमाम ऐसे वित्तीय काम निपटाने होते हैं जो जिन्हें न करने पर आपको अपनी जेब ढीली करनी पड़ सकती है। हम अपनी इस खबर में आपको ऐसे ही तीन कामों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आपको हर हाल में 31 मार्च तक निपटा लेना चाहिए।

रिटर्न में अब की देरी तो पड़ेगी भारी: आप नौकरीपेशा हों या बिजनेस मैन आपको हर वर्ष आईटीआर भरने की आदत डालनी चाहिए, यह आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। वैसे तो बीते वित्त वर्ष के लिए आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2018 थी, हालांकि इसे 31 मार्च 2019 तक फाइन के साथ भरा जा सकता है। इसकी दूसरी डेडलाइन 31 दिसंबर 2018 थी, जिसमें 5,000 रुपये के फाइन के साथ इसे भरा जा सकता था। वहीं जनवरी 2019 से 31 मार्च 2019 तक इसे 10,000 रुपये के फाइन के साथ भरा जा सकता है। लेकिन अगर आप इसे भी चूक गए तो आपको इसके बाद आईटीआर भरने का मौका नहीं मिलेगा।

अपने ऑफिस को दे दें निवेश से जुड़े सभी दस्तावेज: अगर आप नौकरीपेशा हैं तो आपको हर हाल में अपने ऑफिस को साल भर के दौरान किए गए निवेश से जुड़ी जानकारी दे देनी चाहिए। ऐसा न करने की सूरत में अगर आपकी आय टैक्सेबल है तो ऑफिस आपकी सैलरी में से इसे काट लेगा। हालांकि अगर आपकी ओर से किया गया निवेश टैक्स छूट के दायरे में आता है तो आईटीआर फाइलिंग के जरिए आप इस कटौती को वापस अपने खाते में पा सकते हैं। लेकिन आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप हर हाल में निवेश से जुड़े दस्तावेज अपने ऑफिस को दे दें।

फिजिकल शेयर का ट्रांसफर: अगर आपके शेयर्स अभी भी फिजिकल फॉर्मेट में हैं, तो उन्हें एक अप्रैल, 2019 से पहले डीमैट में बदलवा लें। अगर आपने इस समय-सीमा के अंदर अपने शेयर को डीमैट में नहीं बदलवाया, तो आप उन्हें बेच नहीं पाएंगे। यानी आपको बड़ा आर्थिक नुकसान हो जाएगा।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार PM मोदी जल्द दिखाएंगे ट्रेन 18 को हरी झंडी, दिल्ली-वाराणसी मार्ग पर दौड़ेगी ट्रेन: पीयूष गोयल

1 Hour ago

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्दी ही ट्रेन 18 को हरी झंडी दिखाएंगे। देश की सबसे तेजी से दौड़ने वाली यह ट्रेन दिल्ली-वाराणसी मार्ग पर चलेगी। गोयल ने सार्वजनिक उपक्रम कॉनकोर के कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। रेल मंत्री ने कहा कि यह रेलगाड़ी ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत बनी है और देश में बुलेट ट्रेनों के लिए मार्ग प्रशस्त करेगी। गोयल के मुताबिक यह ट्रेन आठ घंटे में दिल्ली से वाराणसी का सफर तय करेगी।

रेल मंत्री के अनुसार बुलेट ट्रेनों की दिशा में यह पहला छोटा कदम है। उन्होंने कहा कि भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए पिछले साढ़े चार साल में कई काम किए हैं और पुराने डिब्बे (कोच) को पूरी तरह से बंद कर दिया है और उसकी जगह एलएचबी डिब्बे पेश किए हैं। गोयल ने कहा कि भारतीय रेलवे पूरी तरह से बिजली से चलने वाली दुनिया की पहली रेलवे में से एक होगी।

मालूम हो कि ट्रेन 18, नवंबर-2018 में दिल्ली पहुंची थी। इसके बाद दिसंबर तक इस ट्रेन का ट्रायल रन किया गया। इस ट्रेन को पहले 25 दिसंबर और फिर 29 दिसंबर 2018 से चलाने की योजना थी। उम्मीद की जा रही थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की सबसे तेज रफ्तार ट्रेन-18 को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हरी झंडी दिखाएंगे। हालांकि, इन दोनों तिथियों पर ट्रेन-18 का संचालन शुरू नहीं हो सका।

ट्रेन 18 की खासियतें

  1. इस ट्रेन के मध्य में दो एक्जिक्यूटिव कंपार्टमेंट हैं।
  2. दोनों एक्जिक्यूटिव कंपार्टमेंट में 52-52 सीटें हैं।
  3. यह देश की पहली इंजन रहित ट्रेन होगी और शताब्दी का स्थान लेगी।
  4. शताब्दी की 130 किलोमीटर प्रति घंटे की जगह 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार।
  5. गति के मुताबिक पटरी बना ली जाए तो यह शताब्दी से 15 प्रतिशत कम समय लेगी।
  6. ट्रेन के सामान्य कोच में 78 सीटें हैं।
  7. अलहदा तरह की लाइट, ऑटोमेटिक दरवाजे और सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे।
  8. जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली होगी।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार शुक्रवार को फिर महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, जानिए क्या रहे आपके शहर के दाम

1 Hour ago

पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला फिर शुरू हो गया है। कच्चे तेल का दाम बढ़ने के बाद तेल मार्केटिंग कंपनियों ने शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ा दी हैं। दिल्ली में पेट्रोल का भाव फिर 69 रुपये लीटर से ऊपर चला गया है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल की कीमतें बढ़कर क्रमश: 69.07 रुपये, 71.20 रुपये, 74.72 रुपये और 71.67 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं।

चारों महानगरों में डीजल के दाम बढ़कर क्रमश: 62.81 रुपये, 64.58 रुपये, 65.73 रुपये और 66.31 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में शुक्रवार को पेट्रोल के दाम में 19 पैसे और चेन्नई में 20 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई। वहीं, डीजल की कीमतें दिल्ली और कोलकाता में 28 पैसे, जबकि मुंबई और चेन्नई में 30 पैसे प्रति लीटर बढ़ाई गई हैं। 

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार 7th Pay Commission: अब देश के इस राज्य के 8 लाख सरकारी कर्मचारियों का बढ़ेगा वेतन

1 Hour ago

अब पश्चिम बंगाल के सरकारी कर्मचारियों को 7वें वेतन आयोग के हिसाब से बढ़े हुए वेतन का फायदा मिलेगा

महाराष्ट्र में 20 लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों की वेतन बढ़ोतरी के बाद अब पश्चिम बंगाल के 8 लाख सरकारी कर्मचारियों को बढ़ी हुई सैलरी का तोहफा मिलने जा रहा है। कर्मचारियों की 1 जनवरी 2019 से ही बढ़ी हुई सैलरी का फायदा मिलेगा। इस संबंध में फैसला बीते साल जून महीने में कर लिया गया था लेकिन यह अमल में इस महीने आ रहा है।

इस फैसले का लाभ न सिर्फ राज्य सरकार के कर्मचारियों को बल्कि शिक्षकों एवं अन्य लोगों को भी होगा। यह वेतन वृद्धि महंगाई भत्ते (डीए) में इजाफे के संदर्भ में है। पश्चिम बंगाल सरकार ने 1 जनवरी 2019 से ही डीए में 100 से 125 फीसद तक के इजाफे की घोषणा की थी।

सरकार के वित्त विभाग ने जानकारी दी है, "राज्य सरकार के कर्मचारियों महंगाई भत्ते में 100 से 125 फीसद का इजाफा 1 जनवरी 2019 से अमल में आ गया है। इसमें राज्य सरकार के कर्मचारी,शिक्षक सरकार के नॉन टीचिंग कर्मचारियों समेत सहायता प्राप्त शिक्षण संस्थान, सांविधिक निकाय के कर्मचारी, सरकारी उपक्रम, पंचायत जिनमें पंचायत कर्मी और नगर निगम/नगर पालिका और स्थानीय निकाय शामिल होंगे।"

इस इजाफे का लाभ हर उस सराकारी कर्मचारी को होगा जो कि 80,000 रुपये तक का बेसिक पे प्रति माह उठा रहा है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यह भी स्पष्ट किया है कि वो जनवरी तक सभी बकाया का भुगतान कर देंगी।

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार 7th Pay Commission : 17 लाख कर्मचारियों को नए साल का तोहफा, 1 जनवरी से लागू होगा फैसला

1 Hour ago

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। महारष्ट्र के कर्मचारियों को सरकार ने नए साल का तोहफा दिया है। आज हुई कैबिनेट मीटिंग में राज्य सरकार ने 7th Pay Commission की सिफारिशों को मंजूरी दे दी और इसे 1 जनवरी 2019 से लागू कर दिया जाएगा। सातवें वेतन आयोग के लागू होने के बाद राज्य सरकार के खजाने पर 21 हजार करोड़ रुपये का अतरिक्त भार आएगा। इस फैसले से तकरीबन राज्य के 17 लाख कर्मचारियों को लाभ पहुंचेगा।

बता दें कि राज्य सरकार के कर्मचारी संगठनों ने सातवें वेतन आयोग को लागू करने के लिए आंदोलन की चेतावनी दी थी। आज हुई कैबिनेट मीटिंग में सरकार ने सातवें वेतन आयोग को लागू करने का फैसला करते हुए लाखों कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। सातवां वेतन आयोग लागू होने के बाद कर्मचारियों को इसके पहले वेतन का फायदा 1 फरवरी को मिलेगा और तीन वर्षों का पीएफ का पैसा 1 जनवरी 2016 से कर्मचारियों के पीएफ में जमा किया जाएगा।

वेतन आयोग लागू होने के बाद चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के वेतन में प्रति माह चार से पांच हजार की बढ़ोतरी होगी। थर्ड क्लास कर्मचारियों के वेतन में पांच से आठ हजार की वृद्धि, जबकि द्वितीय और प्रथम श्रेणी के कर्मचारियों के वेतन में नौ से चौदह हजार का इजाफा होगा। इसके अलावा, 12 साल के लिए बढ़े हुए वेतनमान की संख्या में बदलाव होगा। अब 10 साल, 20 साल और 30 साल के लिए वेतनमान निर्धारित करने का प्रस्ताव है। मुंबई, पुणे और नागपुर में आवास लाभ 25%, ठाणे, नवी मुंबई, नासिक और अन्य शहरों में 20% और अन्य शहरों के लिए 15% प्रस्तावित है।


comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार ब्याज दरें बढ़ने से टूटा बाजार, सेंसेक्स 123 और निफ्टी 36 अंक गिरकर खुला

1 Hour ago

इस कारोबारी हफ्ते के चौथे दिन शेयर बाजार ने गिरावट के साथ शुरुआत की है. बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से ब्याज दरें बढ़ाई गई हैं. इसका सीधा असर घरेलू बाजार पर पड़ा है.

गुरुवार को सेंसेक्स 123.20 अंक गिरकर 37,398.42 के स्तर पर खुला है. वहीं, निफ्टी में भी गिरावट देखने को मिल रही है. निफ्टी सूचकांक ने 35.60 अंकों की गिरावट के साथ 11,310.60 के स्तर पर अपना कारोबार शुरू किया है.

शुरुआती कारोबार में तेल कंपनियों के शेयरों में बढ़त देखने को मिल रही है. फिलहाल ओएनजीसी, आईओसीएल, बीपीसीएल के शेयरों में बढ़त देखने को मिल रही है. दूसरी तरफ, टाटा स्टील और आईसीआईसीआई बैंक के शेयरों में गिरावट जारी है.

RIL के शेयरों में भी गिरावट:

गुरुवार को शुरुआती कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के शेयरों में भी गिरावट नजर आ रही है. इस कारोबारी हफ्ते के चौथे दिन की शुरुआत कंपनी के शेयरों ने 0.49 फीसदी की गिरावट के साथ की है.

रुपया हुआ मजबूत:

गुरुवार को रुपये ने मजबूत शुरुआत की है. एक डॉलर के मुकाबले गुरुवार को रुपया 6 पैसे मजबूत हुआ है. यह 68.37 के स्तर पर खुला है.

बुधवार को यह 68.43 के स्तर पर पहुंचकर बंद हुआ था. बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से रेपो रेट में बढ़ोत्तरी करने के बाद रुपये में बढ़त देखने को मिली और यह मजबूती के साथ बंद होने में कामयाब रहा.

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें आज कितनी हो गई कीमत

1 Hour ago

लगातार दो दिन तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं करने के बाद तेल कंपनियों ने तीसरे दिन कीमतें बढ़ा दी हैं. गुरुवार को महानगरों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी हुई है.

गुरुवार को महानगरों में पेट्रोल की कीमतें 11 से 15 पैसे की दर से बढ़ी हैं. दिल्ली में पेट्रोल 15 पैसे बढ़कर 76.43 के स्तर पर मिल रहा है. कोलकाता में यह 79.33 रुपये और मुंबई में 83.87 रुपये का प्रति लीटर मिल रहा है. वहीं, चेन्नई की बात करें तो यहां आपको 79.39 प्रति लीटर  चुकाने पड़ रहे हैं.

वहीं, डीजल की बात करें तो दिल्ली में एक लीटर के लिए आपको 67.93 रुपये प्रति लीटर चुकाने पड़ रहे हैं. बुधवार को यह 67.82 रुपये प्रति लीटर पर बना हुआ था. कोलकाता में डीजल 70.69, मुंबई में 72.12 और चेन्नई में 71.74 रुपये प्रति लीटर का मिल रहा है.

बता दें कि पिछले दो दिनों के दौरान पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था. इसी बीच, कच्चे तेल की कीमतों में आ रही नरमी भी थम गई है. बुधवार को ब्रेंट क्रूड की कीमत में 0.2 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है.

इस बढ़ोत्तरी के साथ यह 72.56 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया है. वहीं, डब्लूटीआई क्रूड की कीमत 0.3 फीसदी बढ़ी है. इस बढ़ोत्तरी के साथ यह 67.86 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंचा है.

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार फॉर्च्यून 500 लिस्ट: रिलायंस समेत भारत की ये सात कंपनियां हैं शामिल, वॉलमार्ट नंबर वन

1 Hour ago

वैश्व‍िक पत्र‍िका फॉर्च्यून ने बुधवार को अपनी सालाना फॉर्च्यून 500 कंपनियों की लिस्ट जारी की है. दुनिया की इन सबसे बड़ी 500 कंपनियों में भारत की 6 कंपनियां शामिल हुई हैं. इनके अलावा भारतीय स्टेट बैंक ने भी इस‍ लिस्ट में जगह बनाई है. इस लिस्ट में सबसे ज्यादा बढ़त मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को मिली है.

फॉर्च्यून के मुताबिक लिस्ट में रिलायंस ने सबसे बड़ा उछाल हासिल क‍िया है. लिस्ट में RIL 55 पायदान बढ़ कर 148वें स्थान पर काबिज हुई है. इससे पहले RIL 203वें स्थान पर थी. फॉर्च्यून ने कहा कि पिछले वित्त वर्ष के दौरान आरआईएल का मुनाफा 25.5 फीसदी बढ़ा है. वित्त वर्ष 2017-18 में कंपनी की कुल कमाई 62.3 अरब डॉलर रही है.

हालांकि लिस्ट में इंडियन ऑयल कंपनी सबसे आगे निकली है. यह लिस्ट में 137वें स्थान पर काबिज हुई है. आईओसीएल और रिलायंस के बाद 197वें स्थान पर ऑयल एंड नेचुरल गैसत (ONGC) शामिल हुई है. 

पिछले साल यह कंपनी लिस्ट में शामिल नहीं थी. लिस्ट में इसे शामिल करने की मुख्य वजह इसकी कमाई में आई 156.9 फीसद की बढ़ोतरी है.

लिस्ट में भारतीय स्टेट बैंक 216वें स्थान पर काबिज हुआ है. टाटा मोटर्स इस लिस्ट में 232वें स्थान पर अपनी जगह बनाने में कामयाब हुई है. इनके अलावा भारत पेट्रोलियम 314वें पायदान पर काबिज हुई है. राजेश एक्सपोर्ट्स को लिस्ट में 405वें पायदान पर रखा गया है. पिछले साल यह 295वें स्थान पर थी.

लिस्ट में टॉप कंपनियों में रिटेलर कंपनी वॉलमार्ट ने बाजी मारी है. वॉलमार्ट पहले स्थान पर काबिज हुई है. इसके बाद दूसरे नंबर पर चीनी कंपनी स्टेट ग्र‍िड, साइनोपेक ग्रुप तीसरे और चीन के नेशनल पेट्रोलियम को चौथे पायदान पर ल‍िस्ट में रखा गया है. 5वें पायदान पर डच कंपनी रॉयल डच शेल शामिल है.

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार मामूली गिरावट के साथ बंद हुए शेयर बाजार, सेंसेक्स 21 अंक लुढ़का

1 Hour ago

मुंबई: देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को गिरावट दर्ज की गई. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 21.10 अंकों की गिरावट के साथ 33,756.28 पर और निफ्टी 3.90 अंकों की गिरावट के साथ 10,440.30 पर बंद हुआ. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 48.87 अंकों की तेजी के साथ 33,826.25 पर खुला और 21.10 अंकों या 0.06 फीसदी की गिरावट के साथ 33,756.28 पर बंद हुआ. दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 33,860.99 के ऊपरी और 33,707.80 के निचले स्तर को छुआ

comment 13
post-1 big-plus
arrow Read More
कारोबार पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस के सीएफओ जयेश जैन ने इस्तीफा दिया

1 Hour ago

नई दिल्ली: घर के लिये ऋण प्रदान करने वाली पीएनबी हाउसिंग ने कहा कि उसके मुख्य वित्त अधिकारी (सीएफओ) जयेश जैन ने कंपनी से इस्तीफा दे दिया है.


बंबई शेयर बाजार को दी जानकारी में पीएनबी हाउसिंग ने कहा, "जयेश जैन ने मुख्य वित्तीय अधिकारी और कंपनी के प्रमुख प्रबंधकीय कर्मचारी के पद से इस्तीफा देने का फैसला किया. उनका आखिरी दिन पांच जनवरी 2018 है." कंपनी ने इस बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी.

इसी बीच बता दें कि सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) में कमी लाने के लिए 1,176 करोड़ रुपये के 32 संकटग्रस्त ऋणधारकों की संपत्ति की नीलामी का निर्णय लिया था.

comment 13